🙏 प्रार्थना 🙏

हम सब बुद्धजीवी प्राणी है, हम सब भलीभांति जानते हैं कि हर परिस्थिति में अपने अस्तित्व को बचाये रखना तथा अपने जीवन को सरलता, सहजता और पूर्ण रूप से जीना ही सभी का परम् लक्ष्य है।

मगर ये आकांक्षा सिर्फ आपकी और मेरी ही नही है अपितु हर मनुष्य, पशु और तो और हर पेड़ पौधे की भी यही आकांक्षा है – लक्ष्य है।

देखिये पेड़- पौधे भी अपनी जड़ों को भयंकर अवरोधों के बावजूद निरन्तर जमीन में भीतर ही भीतर धकेलते रहते हैं – पानी की खोज में, भोजन की खोज में.. आखिर ये उनकी अपने अस्तित्व को, अपने जीवन को बचाये या बनाये रखने की ही तो कोशिश और न रुकने वाला एक संग्राम है।

आप इतने सक्षम हो कर, बुद्धिमान हो कर भी अगर ये सोचते हैं कि आपका जीवन अपने आप सरल हो जायेगा, सुंदर या खुशहाल हो जायेगा या फिर जिस कीसी भी चीज़/ उद्देश्य की आप को तलाश है वो बैठे बैठाये ही आपको मिल जायेगी, तो मैं बता दूं कि ये कदाचित संभव नहीं होने वाला है, प्रिय, कभी नही।

किसी भी जीव की जीवन यात्रा मे संघर्ष, अनिश्चितता एवं उहापोह की स्थिति कभी खत्म होने वाली नही है।

फिर आप अपनी प्राथमिकताओं को, लक्ष्यों को हासिल करने की इस प्रक्रिया और जीवन यात्रा में अप्रसन्न, क्षुब्ध, हताश, चिड़चिडे और क्रोधित क्यों बने रहना चाहते हैं। यदि आप अपने लक्ष्यों तक पहुंचने के लिए की गई मेहनत के दौरान खुश नहीं रहते हैं तो याद रखिये की आपके द्वारा किए गए किसी भी प्रयास का कोई खास नतीजा नहीं निकलने वाला है।

आपकी मानसिक प्रसन्नता आपको सक्षम बनाती है और गुणात्मक रूप से आपके प्रयासों का असर बढ़ा देती है। मुझे तो यही लगता है। इसीलिये प्रिय मैं कहता हूं – मुस्कराते रहें, हँसते – गाते रहें, होंसला रख कर अपने शुभ प्रयास करते रहें – आपको सफलता निश्चित ही प्राप्त होगी।

आपकी पूर्णता एवं श्रेष्ठता हासिल करने की तथा अपने आत्म- जागरण / संवरण की यात्रा सरस, सुंदर, रसमय तथा सुखमय बनी रहे, आप हर प्रकार से सफल हों, आनंदित रहें, सुरक्षित रहें और स्वस्थ रहें, ऐसी मेरे आराध्य प्रभु से आज मेरी प्रार्थना है। मंगल शुभकामनाएं💐

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s