प्रार्थना

अगर हम गौर से देखेंगे तो पायेंगे कि सब तरफ उत्सव ही उत्सव है, वसंत ही वसंत है। सब तरफ रंग है। ईश्वर हर हरे पत्ते की हरियाली में है और हर फूल के रंग में है। आप मे है और मुझ में भी है। ईश्वर ही तो जीवन है।

समस्या ईश्वर के होने या न होने की तो कभी थी ही नहीं… समस्या तो हमारे चयन की है, समझने की है, भटकन की है, मूढ़ता की है, मानने की है और मन की है। हमारे हजारों हज़ार मन हैं और वे बस घूमते ही रहते हैं। हमारा मन हर समय तरह तरह के छलावे रचने में व्यस्त रहता है, कोई न कोई स्वांग रचता ही रहता है। किसी न कीसी भरम में डाले ही रखता है। असल समस्या यही है कि हमारे स्वंय का मन हमे अपने जाल से निकलने ही नही देता। यह हमारा अपना मन है, न कि हमारा कोई शत्रु जो हमे सही बात को सोचने या करने से रोकता है, जो हमारी उलझनें बढाता जाता है।

और इसीलिए सम्भवतः हमारी प्रार्थना का एक अर्थ है – अपने मन को टटोलना, इसे काबू में करके, शान्ति से आत्मचिन्तन और आत्मावलोकन करना, बस। इतना ही हमारे लिए शायद पर्याप्त होगा, एक मायने में। और मेरे हिसाब से तो हमारे सब आवेग, चिड़चिड़ापन, संताप इसी से खत्म हो जाएंगे।

जो दीया कल तक बुझा हुआ सा लग रहा था, उसे आज प्रज्वलित कर – अपनी दिव्य (जीवन) ज्योति को प्रकट करने के प्रयास को प्रार्थना कहेंगे, आज के संदर्भ में।

मैं आज अपने आराध्य प्रभु से प्रार्थना करता हूँ कि आपकी वास्तविकता, समझ, आपकी आत्मा की उच्चतर शक्ति, सामर्थ्य, ऊर्जा तथा छिपा हुआ देवतत्व जल्द ही जागृत हो जाये तथा आपके भीतर जो परमात्मा का प्रकाश अब तक छुपा हुआ है वो जल्द ही अनवरत हो जाये और आपके घर-संसार को प्रकाशमान कर दे।

मेरी आज उनसे ये वीनती भी है कि आपके जीवन मे अम्रत, आनंद, माधुर्य और समृद्धि के रंगों की बारिश हमेशा होती रहे। मंगल शुभकामनाएं।।

लोगों की पहचान करना भी एक कला है।

तुमसे यूँ ही सादगी, सरलता और साधारणता से मिलता हुआ, तुम्हे अभिवादन करता हुआ, तुम्हारा सम्मान-सत्कार करने वाला, तुम्हे आदरणीय और माननीय बताने-बनाने वाला और तुम्हारे लिये प्रार्थना करने वाला हर व्यक्ति सिर्फ कमजोर, मामूली, मूर्ख या भिक्षुक ही नही होता, उनमे से कुछ बुद्ध भी होते हैं।

You are just one thought & one act away from your brand new life.

Darling listen – I don’t know about you, but mostly all human beings have the capability to evolve, cultivate, grow, transform, flourish, thrive & succeed. Almost everyone can think, process thoughts & come up with ideas that they didn’t have before 😂

I wish to encourage you too to begin your transformation from today. Push yourself to put your strengths (not weaknesses) to work & start making the most of yourself. Start focusing on what’s good for you & working out of your comfort zone.

Darling listen – You are always one thought & one act away from brand new life. Believe me, the moment you begin to shift your thoughts from lack/ limitations to abundance / opportunities & start doing things that bring you one big step closer to your goal everyday, no matter how badly you are distracted, tormented or preoccupied – you will not only begin to move from good to great but will also become a game changer, difference-maker & will achieve everything you want, sooner than you can imagine.

I wish & pray that you grow leap’s n bounds & remain filled with utmost happiness, always!

Blessings, Blessings & Tons of blessings 💐

If you produce good energy & radiate at higher frequency, You Attract BETTER!

When the world has started producing & generating good energy from waste, why can’t your thoughts, intentions, mannerism & deeds generate positive energy out of you.

When you know your positive energy affect everything around you & has the potential to evoke more positive energy, more happiness & more peace, why can’t you choose to walk through the corridors simply with a smile rather than a scowl.

Darling listen – For some of us, positivity comes naturally. But for those who don’t have positivity as their go-to state, it is quite possible to learn to be more positive & how to radiate positive energy. Try it!

I am sending positive energy to all those people in their lives. I hope they find it & use it.

Once you have positive energy & good vibes radiating from you, you will attract more positive things as well. I guarantee!

The reason is simply because people respond well to positivity. When you enter any room with smile & positivity, you do not simply receive looks & stares but you also receive respect & warm invites. You will also see the world as a place full of opportunity & you have that chance to make your goals or dreams come true. Believe me!

If your thoughts, ideas, words & deeds are negative, most likely you will see the world around you through your tainted & blurred lens only to find everything suspicious, gloomy, awful & useless.

Darling I repeat – “Like attracts like”, this is stated in the law of attraction. All attractions are based on energy, vibration, chemistry, or whatever you may call it, it’s all the same thing. You send out your frequency & it attracts someone or a situation of the same frequency.

Please resolve today to radiate more positive energy – send higher frequency, no matter what the situation is. Also begin to anticipate more happiness, health & success, I mean anticipate only good & begin to have faith that all things – situations, challenges, obstacles & difficulties will eventually work out favorably in the end.

I pray & wish that your good & positive energy increase your magnetism for all the wonderful, beautiful & right things in your life.

Stay Healthy, Cheerful & Successful 💐

पितृ पक्ष

आज से पितृ पक्ष प्रारंभ हो रहे हैं। सभी पूर्वजों को श्रद्धापूर्वक स्मरण करते हुए उनके चरणों में कृतज्ञ प्रणाम 🙏

मुझे मालूम है कि हम सब इन दिनों में बड़-पीपल पर मीठा जल चढ़ाते हैं, मगर इस बार इस पितृ पक्ष में एक नया बरगद, पीपल या बेल का पेड़ अपने पूर्वजों के नाम पर लगायें। ये हमारी उनको सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

ॐ सर्व पितृ देवताभ्यो नमः
ॐ नमो भगवते वासुदेवाय।।

प्रार्थना

आपका चित्त परम शांति को उपलब्ध हो, आपका मन सकारात्मक विचारों से सराबोर रहे, आपका हर समय अपने सर्वोच्च को उपलब्ध रहना, उत्साहित रहना, आपका स्वंय को इस ब्रह्मांड के साथ एकरस बनाये रखना और आपका सतत इस प्रयास में लगे रहना कि कैसे हमारे जीवन में और आसपास आनंद घटित हो सके, हर्षोल्लास का माहौल बना रह सके – आपकी सही और सच्ची प्रार्थना है, उनके प्रति मन से आभार प्रकट करना है।

शायद इसीलिए असली संतत्व और जीवन मे सफलता का एक अर्थ है – सदैव सदानन्द में जीना। वर्तमान क्षण में सम्पूर्ण रूप से जीना, इसमे परम आनंद को अनुभव करना तथा इस क्षण का यथासम्भव सदुपयोग करना ही महान उपलब्धि है, कुशलता है, परम सुख है तथा सौभाग्य है।

मैं आज अपने आराध्य प्रभु से प्रार्थना करता हूँ कि आपका प्रत्येक नया क्षण आपके जीवन में अनेकानेक सफलताएँ एवं अपार खुशियाँ लेकर आये। आपके जीवन में सदैव उत्साह, आनंद एवं उल्लास का वास बना रहे। मंगल शुभकामनाएं 💐

परमात्मा की प्राप्ति कैसे सम्भव हैं।

अगर नमस्कार करने में भी हाथ पहले कौन जोड़े, ये विचार क्षण भर के लिए भी आपके मन मे आ रहा है तो आप कुछ भी इसे समझे – ये सिर्फ अहंकार है और कुछ भी नही।

और जब आप सबकुछ जानते-समझते हुए भी अपने अहंकार को लादे हुए गलत दिशा में यात्रा कर रहे हैं तो फिर परम् को कैसे प्राप्त करेंगे। कुछ भी रट लें, कोई भी कथा हर दिन कह लें या सुन लें, किसी भी प्रकार से कोई सी भी प्रार्थना कर लें, कंही पहुंचना सम्भव नही है, उनको पाना बिल्कुल सम्भव नही है।

विचारों और व्यवहार में जब तक विनम्रता और पवित्रता उत्पन्न नही होगी तब तक परम् की प्राप्त नही होगी। याद रखिये की उच्च आचरण, आत्मीय व्यवहार, मधुर स्वभाव, सकारात्मक सोच, निरंतर शुभ प्रयास और शुद्ध मन से की गई प्रार्थनायें ही परम् की, शुचिता तथा शुभता की प्राप्ति करवा सकती हैं।

मैं आज अपने आराध्य प्रभु से प्रार्थना करता हूँ कि आप जल्द ही सहज, सरल, विनम्र, सौम्य और मृदभाषी हो जायें, आपकी दिव्यता-उत्कृष्टता और आपका पूरा दैवीय-सामर्थ्य जल्द ही जाग्रत हो जाये।

मेरी उनसे आज ये भी प्रार्थना है की आपके सभी मंगल कार्य सदैव सफल हों, आपके घर-आंगन में सदैव शुभता और मांगल्य की वर्षा होती रहे तथा आपके उत्साह, आनंद और उल्लास में तेजी से वृद्धि हो।

आप को शतायु, स्वस्थ और सशक्त जीवन के लिये ढेरों ढेर मंगल शुभकामनाएं 🙏

Honour your moments more…

If you wish that bliss, peace, satisfaction, ease, awareness or enlightenment should start flowing in your life & if you wish all the gloominess, grief, unhappiness & bust-ups should disappear & come to an end, then you need to tune in & begin to honour your each moment more.

To learn to honour your moments more, please follow my advice –

  • Fully engage in your everyday activities & start putting your heart & soul into your most simple actions even.
  • Begin appreciating your life, your breathing, your health, your world & God.
  • Begin appreciating everything about weather outside – regardless of whether it is raining, windy or hot – remind yourself that weather of today is a perfect representation of your eco system.
  • Switch your attention frequently between your inner world & outer world.
  • Align more with all the sights, sounds, smells & sensations of this very moment.
  • Remain present when interacting with others – really listen & attend to what they are saying.
  • &……

Darling listen – I want you to begin living in the now moment from today itself & do it more from a perspective of appreciation, gratitude & love.

Just think about it for moment:

If someone told you that today was going to be your last day here on earth, in that case what would you plan for today & how would you use your today? What all would you do today that is going to be different from all your yesterdays?

Now again think about it for moment:

If someone told you that today is going to be The First Day Of The Rest Of Your Life, in that case what would you plan for today & how would you use your today? What all would you do today that is going to be different from all your yesterdays?

Always remember that the power of the moment is not in the moment itself. The power, actually, is in you, your priorities, habits, routine & activities. You are your own burden, your own happinesses, your success, your own failures, you are your own problem & you are the remedy.

Darling, you have immense power to make & shape your own moments. I want your heart & mind to embrace this strength which lies within you. I pray & wish life offers you more time to make use of this power.

I also pray & wish that your days be always filled with happy & great moments.