Tag: philosophies

सोने का नही जागने का प्रयास करना है।

हमारे उपनिषद यह स्पष्ट रूप से कहते हैं कि हम सभी दिव्यस्वरूप है और हम सभी के भीतर ब्रह्म है। लेकिन आप न तो अपने भीतर के ईश्वर अंश को अनुभव कर पाते हैं, और न ही आपके चारों तरफ हर चीज़ में मौजूद… Continue Reading “सोने का नही जागने का प्रयास करना है।”