Tag: Rajesh Goyal

प्रार्थना

आपका और मेरा ईश्वर इस सृष्टि के कण-कण में बसा है। और अगर गौर से देखेंगे तो पायेंगे कि ये सारी सृष्टि उनकी प्रार्थना में ही लीन है, दिन और रात। प्रतिपल प्रार्थना चल रही है। ये वृक्ष खड़े हैं चुपचाप; ये इनकी प्रार्थना… Continue Reading “प्रार्थना”

प्रार्थना

परमात्मा इस धरती के हर कण में समाया हुआ है और जिनकी श्रद्धा होती है उंनको चारों तरफ परमात्मा और उनकी अलौकिक शक्तियां नजर भी आती है। परमात्मा की हर पल में अनुभूति करना, सदैव आनंदित रहना और छोटी-छोटी खुशियाँ में भी असीम प्रसन्नता… Continue Reading “प्रार्थना”

Awaken yourself – Awaken Yourself from within!

Today I wish to remind you that you need to know more about yourself than others. You need to awaken yourself – awaken yourself from within. If you begin to explore the person you see in mirror everyday, know more about your strengths, recognise… Continue Reading “Awaken yourself – Awaken Yourself from within!”

Are you becoming the kind of person you hate to be?

Today I wish to remind you that every choice that you make, every action you take & every reaction that you make today must help you to become a person you wish to become & not otherwise. Be cautious 🙏 I am sure you… Continue Reading “Are you becoming the kind of person you hate to be?”

Corporate World… No Offence Please ☺️

😳Project Manager is a Person who thinks nine women can deliver a baby in One month. 😳Procurement manager is a Person who thinks it will take 18 months to deliver a Baby. 😳Operations Manager is one who thinks single woman can deliver nine babies… Continue Reading “Corporate World… No Offence Please ☺️”

Why Are you hardwired for Negativity, Drama, Loudness & Hatred?

I know for sure that everyday you encounter with people, events & TV shows who suck all the positive energy out of you & fuel their relentless hunger for negativity & resentments, leaving you drained, exhausted, hopeless & unhappy. It may be a habit… Continue Reading “Why Are you hardwired for Negativity, Drama, Loudness & Hatred?”

प्रार्थना

आपको देर सबेर ये मानना ही होगा कि भगवान यदि यहाँ नहीं है तो कहीं भी नहीं हैं और भगवान अगर आपके आज में नहीं है तो भविष्य में भी कभी नहीं होंगे। आप के अंदर और सभी के अंदर भगवान् नित्य ही विराजित… Continue Reading “प्रार्थना”

प्रार्थना

हमारी मान्यता ये है की हम सब उस परमब्रह्म ईश्वर की रची रचना हैं और अगर हम उनकी रचना हैं तो स्वभाविक है कि उनका कुछ अंश तो हम सब में ज़रूर होगा। उनकी तरह पूरे ब्रह्मांड को ना सही, कम से कम स्वयं… Continue Reading “प्रार्थना”

🙏 प्रार्थना 🙏

असल मे तो आनन्द ही परमात्मा का स्वरूप है और चारों तरफ, बाहर-भीतर आनन्द-ही-आनन्द भरा हुआ है। सारे संसार में आनन्द छाया हुआ है। यदि आपको जीवन मे इस आनंद का अनुभव नही हो पा रहा है तो सचमुच कुछ कमी है। हम सब… Continue Reading “🙏 प्रार्थना 🙏”

Where focus goes, energy flows..

In fact today it it is all about our attention, focus & concentration. The real power. But the sad part is that most of us have become accustomed to placing our precious attention on the wrong things – on what’s not working, on our… Continue Reading “Where focus goes, energy flows..”