Category: Spiritual

प्रार्थना

जीवन मे सब महत्वपूर्ण चीजें जैसे कि मनुष्य जन्म, मृत्यु, मोक्ष, परिवार, बंधन, यश व अपयश परमात्मा के हाथ में ही हैं। आज भी ये सब उन्ही के यानी के प्रकृति के हाथों में ही है। इसीलिए भलायी इस मे है कि जीवन को… Continue Reading “प्रार्थना”

प्रार्थना

मेरी सहानुभूति है उन सभी लोगों से जो किसी भी रूप में कोरोना जैसे घातक वायरस से प्रभावित हैं या जमाखोरों और काले बाज़ारियो की दरिंदगी का शिकार हुए हैं। साधुवाद है उन सभी लोगों को जो इस महामारी का डट कर मुकाबला कर… Continue Reading “प्रार्थना”

हनुमान जयंती

आप सभी को श्री हनुमान जन्मोत्सव की ढेरों बधाई। कोरोना की इस कठिन घड़ी में आपसे निवेदन है कि सच से सरोकार रखें, सनसनी से नहीं। तथ्यों पर चलें, कल्पनाओं पर नहीं। विवेक को भावुकता से अधिक महत्व दें। यथासंभव नकारात्मक एवं व्यर्थ की… Continue Reading “हनुमान जयंती”

श्री राम की जीवन यात्रा भारतीय संस्कार एवं सभ्यता की प्राण सत्ता हैं।

मुझे नही पता की आप भारतीय परंपरा के सबसे पवित्र, दिव्य और प्यारे नाम “श्री राम” से क्या मतलब निकालते हैं? मुझे नही पता कि आप उन्हें राजा दशरथ के सबसे बड़े आज्ञाकारी बेटे, एक महान और आदर्श राजा के रूप में जानते हैं… Continue Reading “श्री राम की जीवन यात्रा भारतीय संस्कार एवं सभ्यता की प्राण सत्ता हैं।”

दुर्गाष्टमी प्रार्थना

माँ दुर्गा के आठवें स्वरुप माता महागौरी की आराधना के पर्व दुर्गा अष्टमी की आप सभी को बधाई। मैं उम्मीद करता हूँ कि आज की पूजा और जो भी व्रत, प्रार्थना, ध्यान, जप आपने इन नवरात्रों में किये हैं उससे आपको असीम आनंद की… Continue Reading “दुर्गाष्टमी प्रार्थना”

प्रार्थना

जन्म से ही अपूर्व सामर्थ्य, अतुल्य तेज व अन्तहीन संभावनाओं से परिपूर्ण मानव जीवन परमात्मा का एक दिव्य उपहार है। ये तो हम सब जानते हैं। मगर असली सवाल ये है कि इस उपहार स्वरूप मिले अमूल्य जीवन का असली लक्ष्य क्या है? मेरे… Continue Reading “प्रार्थना”

हिन्दू नववर्ष २०७८ विक्रम संवत और चैत्र नवरात्रि की बधाई।

आप सभी को को चैत्र नवरात्रि एवं हिन्दू नववर्ष २०७८ विक्रम संवत की बधाई। माँ दुर्गा की उपासना का ये नौ दिन का महापर्व असल मे अपने आत्मसंवरण का अवसर है। व्रत, प्रार्थना, ध्यान और जप द्वारा अपने मन को शुद्ध और पूरी तरह… Continue Reading “हिन्दू नववर्ष २०७८ विक्रम संवत और चैत्र नवरात्रि की बधाई।”

प्रार्थना

यह संसार आनन्दस्वरूप, सर्वशक्तिमान एवं सर्वव्यापक ईश्वर की ही रचना है और आपको तथा मुझे जीवन में जितना कुछ भी ईश्वरीय उपहार स्वरूप मिला हुआ है, वह अपार और अमूल्य है। इसीलिए जितनी साधन-संपन्नता एवं लौकिक-पारलौकिक अनुकूलतायें हमे प्राप्त हैं, उनके प्रति प्रासादिक भाव… Continue Reading “प्रार्थना”

प्रार्थना

मैं साधरणतः उस ईश्वर की बात नही करता जो कंही दूर परलोक में विराजमान हैं, जो हम सबके मालिक हैं। मैं उनको मानता जरूर हूँ। मैं उनके प्रति अपनी श्रद्धा निरंतर प्रकट करता हूँ। मगर मैं उस विचार से ज्यादा प्रभावित हूँ जो ये… Continue Reading “प्रार्थना”

May your decisions reflect your hopes not your fears!

Today I want to tell you that – never ever make decisions based on your fears or atleast not when you are feeling stressed, overwhelmed, unhappy or disconnected. Believe you me – when you are feeling blue, miserable, scared, anxious or pissed, then you… Continue Reading “May your decisions reflect your hopes not your fears!”